Freelancing Kya Hota Hai | फ्रीलांसिंग से लाखों कमाने के राज़

4.9/5 - (11 votes)

Freelancing Kya Hota Hai और फ्रीलांसिंग से कैसे लाखों कमाएं? यह एक ज़रूरी सवाल है जो सभी युवा को जानना ज़रूरी है। तकनीक के लगातार विकास के कारण चीज़ें बदल रही हैं। पहले लोग नौकरी पर ज़्यादा ज़ोर देते थे, लेकिन कोरोना के बाद लगातार चीज़ें ऑनलाइन होती ही जा रही हैं, जिसके वजह से फ्रीलांसिंग जॉब भी बहुत चर्चे में है।

फ्रीलांसिंग से लोग ऑनलाइन घर बैठे लाखों रुपये बड़ी आसानी से कमा रहे हैं, तो अब नौकरी के लिए घर छोड़ कर दूर जाने की क्या ज़रुरत है। इसीलिए दोस्तों मैं आपके लिए इस पोस्ट को लेकर आया हूँ, जहाँ हम जानेंगे कि फ्रीलांसिंग क्या है, फ्रीलान्स क्या होता है और फ्रीलांसिंग से लाखों रुपये कमाने का राज़ क्या है?

क्या मोबाइल से फ्रीलांसिंग कर सकते हैं, Freelancing work kya hota hai, Freelance work kya hota hai, Freelance jobs kya hota hai, Freelance job kya hota hai? इन सारे सवालों के जवाब आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे।

फ्रीलांसिंग क्या होता है | Freelance Kya Hota Hai?

फ्रीलांसिंग एक ऐसी सहूलियत है, जिसमें कोई व्यक्ति जिसे फ्रीलांसर कहा जाता है, अपने स्किल और सर्विस के ज़रिये दूर बैठे किसी क्लाइंट या बिज़नेस के लिए ऑनलाइन काम करता है। फ्रीलांसिंग में फ्रीलांसर पूरी तरह से स्वतंत्र होकर काम करता है, कोई बॉस नहीं कोई प्रेशर नहीं

Freelancing Kya Hota Hai
Freelancing Kya Hota Hai

फ्रीलांसर Fiverr, Upwork, Freelancer जैसी वेबसाइट के ज़रिये राइटिंग, ट्रांसलेशन, ग्राफ़िक डिजाइनिंग, वेबसाइट बनाना, वीडियो एडिटिंग, सलाहकार, लोगो डिज़ाइन करना, ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाना जैसे अनेक कामों को कर सकता है। काम पूरा होते ही फ्रीलांसर के बैंक अकाउंट में तय किये हुए पैसे आ जाते हैं।

फ्रीलांसर में क्या काम होता है / Freelancing Work Kya Hota Hai?

फ्रीलांसिंग में ट्रांसक्रिप्शन यानि किसी लेक्चर या भाषण का ऑडियो सुनकर टाइप करने का काम, भाषा अनुवाद का काम, नोट्स बनाने का काम, किसी बिज़नेस के लिए Logo डिज़ाइन का काम, मोबाइल फोटोग्राफी, वीडियो एडिटिंग का काम, वेबसाइट बनाने जैसे अनेक work होते हैं।

ये सारे काम फ्रीलांसिंग करने वाले यानी फ्रीलांसर को फ्रीलांसिंग वेबसाइट से मिलते हैं। इन कामों को आपको अपने प्रोफाइल में बताये हुए समय पर करना होता है। काम को क्लाइंट को सौपते ही फ्रीलांसिंग वेबसाइट क्लाइंट द्वारा दिए पैसे को आपके बैंक अकाउंट में भेज देती है।

फ्रीलांसर कैसे बन सकते हैं / फ्रीलांसिंग के लिए कौन सा स्किल सीखें? | गिग क्या होता है?

फ्रीलांसर बनने के लिए फ्रीलांसिंग वेबसाइट पर जाकर आप फ्रीलांसर अकाउंट बनाइये, जिसमें आप जिस क्षेत्र यानि स्किल में फ्रीलांसिंग करना चाहते हैं, उस स्किल में गिग बनाइये।

लेकिन इन सब से पहले आपको कोई स्किल आना ज़रूरी है। जैसे MS Word, MS Excel, भाषा अनुवाद वगैरह। यदि आपको कोई स्किल नहीं भी आती है तो आप फ्री में यूट्यूब से आसानी से सीख सकते हैं।

फ्रीलांसर की वेबसाइट क्या है?

फ्रीलांसिंग की अनेक वेबसाइट हैं जिनमें Upwork, Fiverr, Freelancer ज़्यादा फेमस हैं। मैं नीचे कुछ और फ्रीलांसर वेबसाइट की list दे देता हूँ:

  1. People Per Hour
  2. Flexjobs
  3. LinkedIn
  4. Unsplash
  5. Guru
  6. ServiceScape
  7. SimplyHired
  8. TaskRabbit
  9. 99designs
  10. Toptal
  11. Jooble
  12. Dribbble
  13. TaskRabbit
  14. TaskRabbit
  15. DesignHill

फ्रीलांसिंग से पैसे कैसे कमाएं?

फ्रीलांसिंग से पैसे कमाने के लिए सबसे पहले आपके पास कोई कोई स्किल होनी चाहिए, जिन स्किल के बारे में मैंने ऊपर बताया है। आप ऊपर बताये फ्रीलांसिंग वेबसाइट पर जाकर उन सारे स्किल को देख सकते हैं जिनमें फ्रीलांसिंग की जाती है।

यदि आपको कोई भी स्किल नहीं आती तो थोड़ा समय देकर आप फ्री में यूट्यूब से किसी स्किल को सीख सकते हैं या हमसे कांटेक्ट करें, मैं आपको गाइड कर दूंगा।

अब यदि आपको स्किल आती है तब कम से कम 10 फ्रीलांसिंग वेबसाइट पर अपना फ्रीलांसर अकाउंट बना लीजिये। 10 अकाउंट बनाना ज़रूरी है, क्यूंकि शुरुआत में कम्पटीशन को देखते हुए जितना ज़्यादा आपको एक्सपोज़र मिलेगा, उतनी ज़्यादा काम मिलने की संभावना होगी।

अकाउंट बनाने के बाद आप अपना फ्रीलांसर अकाउंट ओपन करके अक्सर ऑनलाइन रहिये, क्यूंकि जो फ्रीलांसर ऑनलाइन रहते हैं उन्हीं को काम मिलने की ज़्यादा संभावना रहती है, और साथ में अपने स्किल पर भी काम करते रहिये यानि स्किल को और अच्छा करते रहिये।

एक और चीज़, क्लाइंट से बात कैसे करनी है इस पर भी काम करिये। इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप खुद क्लाइंट बनकर किसी अनजान फ्रीलांसर से enquiry कीजिये। जिस तरह से वो आपसे बात करता है, वही तरीका आपको भी अपने क्लाइंट के साथ अपनाना है।

चेतावनी: फ्रीलांसिंग करते वक़्त किसी भी क्लाइंट से उस फ्रीलांसिंग वेबसाइट के ज़रिये ही बात करें, और काम या पैसे की लेन-देन फ्रीलांसिंग वेबसाइट से ही होनी चाहिए वरना चोर और scammers आपके साथ स्कैम कर सकते हैं।

फ्रीलांसिंग के लिए कौन सा स्किल सीखें guide video – Freelancing Kya Hota Hai?

शुरुआत में आप अपनी फीस कम से कम रखिये और क्लाइंट का काम जल्द से जल्द पूरा कीजिये, काम पूरा हो जाने पर क्लाइंट से अच्छे रेटिंग और रिव्यु के लिए request कीजिये। ऐसा करने से आपको ज़्यादा काम मिलना शुरू हो जायेगा, जिसके बाद आप अपनी फीस धीरे धीरे बढ़ा सकते हैं।

Fiverr से पैसे कैसे कमाए?

Fiverr से पैसे कमाने के लिए आपको एक फ्रीलांसर गिग बनाना होगा, जिसके बाद Fiverr पर आपका एक फ्रीलांसर प्रोफाइल बन जायेगा, जिसमें आप क्या काम करने वाले हैं, कितने समय में काम पूरा करेंगे, कितने रुपये चार्ज करेंगे, आपका अनुभव क्या है जैसी सारी जानकारियां रहेंगी।

अब जब कोई क्लाइंट आपके गिग से आकर्षित होगा तब आपसे चैट करके बातें करेगा, जिसमें आपको क्लाइंट की ज़रुरत को समझना होगा और तब क्लाइंट आपको उस काम को करने के लिए Fiverr पर आर्डर लगा देगा।

अब आप उस काम को अच्छे से और कम समय में कर देते हैं और क्लाइंट भी आपके काम से संतुष्ट हो जाता है तब Fiverr क्लाइंट द्वारा दिए पैसे में से अपने कमिशन को काट कर आपके बैंक अकाउंट में भेज देता है।

अब आप अपने क्लाइंट से अच्छी रेटिंग और रिव्यु के लिए request कर सकते हैं, अच्छी रेटिंग आपके Fiverr फ्रीलांसिंग अकाउंट के लिए बहुत अच्छा साबित होगा।

Upwork से पैसे कैसे कमाए?

Upwork से पैसे कमाने के लिए आपको इसके वेबसाइट पर फ्रीलांसर के तौर पर अकाउंट बनाना होगा, जिसमें आप अपनी स्किल और अनुभव के साथ-साथ प्रति घंटे की फीस mention करते हैं। Upwork पर काम Fiverr से अलग होता है, इसपर आपको बोली लगानी होती है।

Upwork पर क्लाइंट्स या कोई बिज़नेस वाले अपने काम को पोस्ट करते हैं, जिसमें वो विस्तार से बताते हैं कि उन्हें क्या काम और कितने समय में करवानी है और इस काम के लिए वो कितना पैसा दे सकते हैं, इसका एक range बता देते हैं।

अब क्लाइंट के इस पोस्ट को उस काम से सम्बंधित सारे फ्रीलांसर देख सकते हैं, और अपनी-अपनी बोली लगा सकते हैं। क्लाइंट को जिस फ्रीलांसर का दाव पसंद आएगा उसे वो काम दे देगा। काम को क्लाइंट को देते ही Upwork अपने कमिशन को काट कर बाकी पैसे आपके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर देगा।

Freelancer से पैसे कैसे कमाए?

Freelancer से पैसे कमाने के लिए भी आपको Upwork के ही तरह फ्रीलांसर अकाउंट बनाना होगा, जिसके बाद काम सर्च करके बोली लगानी होगी, क्लाइंट से एक प्रोफेशनल की तरह बात करनी होगी। काम मिलने पर काम को पूरी लगन से करना होगा और काम पूरा हो जाने पर अपने क्लाइंट से अच्छे रेटिंग के लिए आग्रह करना होगा।

शुरू में फ्रीलांसिंग में आर्डर / काम जल्दी कैसे पाएं?

Pro Tip 1: फ्रीलांसिंग में शुरू में काम मिलने में बहुत ज़्यादा इंतज़ार करने से बचने के लिए, आप अपने किसी पहचान वाले या यदि कोई क्लाइंट आपको ऑफलाइन मिलता है तो आप उससे फ्रीलांसिंग वेबसाइट के ज़रिये आपको आर्डर दिलवाइये। फिर आप वहां उसे काम करके जमा कर दीजिये, जिसके बाद आपके पहचान वाला क्लाइंट फ्रीलांसिंग वेबसाइट के ज़रिये ही आपको पैसे देगा।

अब आता है असली मज़ा, ये क्लाइंट आपके कहने पर वेबसाइट पर आपके लिए खूब अच्छा रेटिंग और रिव्यु लिख देगा। अब इस रेटिंग को देख बाकी क्लाइंट भी आकर्षित हो कर आपको आर्डर देने लगेंगे।

Pro Tip 2: फ्रीलांसिंग में जल्दी आर्डर या काम मिलने के लिए आप अपने पहले क्लाइंट को फ्री में काम करने का ऑफर दें और काम अच्छा करके दे, जिससे आपका क्लाइंट खुश होकर आपको बहुत अच्छे रेटिंग और रिव्यु देगा।

फ्रीलांसर की सैलरी कितनी होती है?

फ्रीलांसर की सैलरी 10 हज़ार से 10 लाख महीने तक होती है। एक फ्रीलांसर की सैलरी उसके काम और उसके स्वभाव पर निर्भर करती है। यदि आप अपने क्लाइंट से अच्छे से बात करेंगे, उसकी ज़रुरत, उसके काम को अच्छे से समझेंगे और फिर उस काम को खुद के तय किये हुए समय पर या उससे पहले कर देंगे तब ज़ाहिर सी बात है आपका क्लाइंट आपसे खुश हो जायेगा।

फिर वो आपको बहुत अच्छी रेटिंग और कमेंट देकर जायेगा, और इस रेटिंग के बदौलत फ्रीलांसिंग वेबसाइट आपके प्रोफाइल को अब ज़्यादा क्लाइंट्स को दिखायेगा। नए क्लाइंट आपके प्रोफाइल की इतनी अच्छी रेटिंग और पहले के क्लाइंट द्वारा लिखे इतने अच्छे कमेंट को देखकर अब आपको ही काम देंगे। ऐसे आपकी दिन दुनि और रात चौगनी तरक्की होगी।

फ्रीलांसिंग के फायदे और नुकसान क्या हैं?

फायदेनुकसान
ज़्यादा पैसाकमाई का एक जैसा न रहना
कोई बॉस का प्रेशर नहींकोई फैसिलिटी जैसे हेल्थ, tour, रिटायरमेंट प्लान का न होना
एक से ज़्यादा काम करने के ऑप्शनसोशल isolation
स्किल बढ़ाने का मौकाजॉब सिक्योरिटी का न होना
अपने हिसाब से अपने टाइम में काम करनाकभी-कभी वर्क लोड का बहुत ज़्यादा हो जाना
Advantages and disadvantages of freelancing in Hindi

सबसे ज्यादा मांग वाली फ्रीलांस जॉब्स कौन सी है?

फ्रीलान्स जॉब्स जैसे Web designer, Web developer, Programmer, Videographer, Digital marketing consultant, Editor, Mobile app developer, Social media manager, Accountant, और फोटोग्राफर की सबसे ज़्यादा मांग / डिमांड है।

Freelancing से ज़्यादा पूछे जाने वाले कुछ सवाल

क्या मोबाइल से फ्रीलांसिंग कर सकते हैं?

जी हाँ, मोबाइल से फ्रीलांसिंग कर सकते हैं, शर्त ये है कि स्मार्ट फ़ोन हो और उसमें इंटरनेट का अच्छा कनेक्शन हो।

मुझे फ्रीलांसिंग कहां से शुरू करनी चाहिए?

आप फ्रीलांसिंग अपने घर से ही कई फेमस फ्रीलांसिंग वेबसाइट के द्वारा शुरू कर सकते हैं, इन वेबसाइट में Upwork, Fiverr, Freelancer ज़्यादा मशहूर हैं।

भारत में फ्रीलांसर प्रति घंटा कितना चार्ज करते हैं / भारत में एक फ्रीलांसर कितना कमाता है?

भारत में फ्रीलांसर 500 से 5000 रुपये प्रति घंटा चार्ज करते हैं, चार्ज करना बात पर निर्भर करता है कि काम कैसा है, फ्रीलांसर का लेवल या अनुभव कितना है। यदि महीने का देखा जाए तो भारत में एक फ्रीलांसर 5 हज़ार से 10 लाख रुपये तक कमाता है।

मुझे फ्रीलांसिंग कब शुरू करनी चाहिए?

जब आपको लगने लगे कि जिन स्किल पर फ्रीलांसिंग हो रही है, उनमें से कोई एक स्किल भी आपको अच्छे से आती है तब आपको फ्रीलांसिंग शुरू कर देनी चाहिए।

क्या 13 साल का बच्चा फ्रीलांसर बन सकता है?

जी बिलकुल, 13 साल का बच्चा फ्रीलांसर बन सकता है, यहाँ तक कि 9-10 साल के बच्चे भी पढ़ाई के साथ फ्रीलांसिंग करके अच्छे पैसे कमा रहे हैं। ज़रुरत सिर्फ अच्छे स्किल और कम्युनिकेशन की है, यदि ये दो चीज़ें किसी में भी हैं तो वो फ्रीलांसिंग से पैसे कमा सकता है।

निचोड़ – Freelancing Kya Hota Hai?

फ्रीलांसिंग एक तरह से आसानी और सहूलियत का नाम है, जिस तरह से हर चीज़ें आसान बनाने की कोशिश की जाती है ठीक उसी तरह अब घर बैठे जॉब की जा सकती है वो भी बिना किसी बॉस के प्रेशर या चापलूसी के। लेकिन अब जिस तरह हर सहूलियत में कुछ खराबी भी होती है उसी तरह इसकी भी कुछ कमियां हैं। लेकिन यदि कोई फ्रीलांसर बैलेंस करके चले तो उसके लिए फ्रीलांसिंग में ज़्यादा अच्छाई ही है।

मेरे कहने का मतलब है कि पैसे के लालच में यदि कोई आर्डर पर आर्डर ही लेता रहे तो वो बस घर में बंद होकर दिन-रात काम ही करते रहेगा। जिसके वजह से उसके लाइफ में परेशानी आने लगेगी, चाहे वो सेहत की परेशानी हो या रिश्ते की।

उम्मीद है मेरी यह पोस्ट Freelancing Kya Hota Hai और फ्रीलांसिंग से कैसे लाखों कमाएं?, से आपको ज़रूर फायदा हुआ होगा, कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करें। इस पोस्ट को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें। अपना और अपनों का ख़याल रखें, शुक्रिया।

Leave a comment