Short Story in Hindi | एलियन और लड़के की कहानी हिंदी में

4.9/5 - (10 votes)

Short Story in Hindi: बहुत साल पहले की बात है। अमेरिका के एक छोटे से गाँव Mill Creek में थॉमस नाम का 10 साल का एक लड़का रहता था। थॉमस अपनी माँ के साथ रहता था, माँ की मानसिक हालत कुछ सही नहीं थी। थॉमस पढ़ने में ठीक-ठाक था, और किसी से भी ज़्यादा बात नहीं करता था।

ज़्यादा बात न करने के वजह से स्कूल के बदमाश बच्चे उसे परेशान करते रहते थे। उसके स्कूल में अल्बर्ट नाम का एक बदमाश बच्चा था। वो अक्सर सीधे बच्चों को कभी मारता, चिढ़ाता और परेशान करता था।

Short Story in Hindi

एक दिन जब क्लास में टीचर ने बच्चों से सवाल पूछे तब थॉमस ने उसका सही उत्तर दिया, जिसके वजह से टीचर ने थॉमस की बहुत तारीफ़ की। अल्बर्ट मन ही मन में बहुत चिढ़ा और क्लास ख़त्म होने पर उसने थॉमस को बहुत पीटा।

Note: यह कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है, इसका कोई सच्ची घटना ने सम्बन्ध नहीं है और अच्छी दुनियां में एलियन जैसी कोई चीज़ नहीं होती, सिर्फ मनोरंजन के लिए बातें बनायीं जाती हैं।

बेचारा थॉमस रोता हुआ घर आया और अपनी माँ से सारी बातें बताई। पर क्यूंकि उसकी माँ की मानसिक स्थिति सही नहीं थी इस वजह से कोई फायदा नहीं हुआ। बेचारा थॉमस रोता हुआ सो गया।

एलियन का धरती पर आना

रात में अचानक से उसके घर के पास आसमान से कोई चीज़ आ कर गिरी। थॉमस की नींद खुल गयी और वह डरते हुए खिड़की से बाहर देखने लगा। उसने देखा आसमान से कोई गोल आकार की उड़न तश्तरी उसके घर के पास गिरी हुई थी। जिसमें कोई दर्द से मदद मांग रहा था।

Short Story in Hindi
Short Story in Hindi

थॉमस डरते हुए हिम्मत करके उसके पास गया। तभी उसकी आँखे फटी की फटी रह गयी, उसके सामने एक जीता जागता घायल एलियन पड़ा हुआ था। क्यूंकि थॉमस बहुत नरम दिल का था उसने जल्द ही एलियन की मदद की। इससे एलियन उससे बहुत खुश हो गया, और दोनों अच्छे दोस्त बन गए।

अच्छी अच्छी स्टोरी पढ़ने के लिए हिंदी कहानी की एक बहुत अच्छी वेबसाइट StoryWorld.in पर जाएँ।

उस एलियन ने थॉमस को बहुत सारे फाइटिंग स्किल सिखाये, और दोनों ने खूब मस्ती की। अब एक दिन ऐसा आया कि एलियन ने थॉमस से कहा कि उसको उसके planet Orion वापस जाना होगा। क्यूंकि उसके planet पर एक जंग शुरू हो गयी है और वहां ज़्यादा से ज़्यादा लोगों की ज़रुरत है।

एलियन प्लैनेट पर जाना (Small Story in Hindi)

तभी थॉमस ने कहा मैं भी तुम्हारे साथ ओरियन प्लैनेट चलूँगा। थॉमस भी तैयार हो गया और बोला ठीक है, तुम हमारी मदद कर सकते हो क्यूंकि जो फाइटिंग स्किल मैंने तुम्हें सिखाया है उसके वजह से तुम हमसे ज़्यादा मज़बूत हो गए हो और तुम हमारे दुश्मनों पर भारी पड़ोगे।

Hindi Kahani
Hindi Kahani | थॉमस का एलियन प्लेनेट पर जाना

यह जानकार थॉमस बहुत खुश हुआ और दोनों ने उड़न तश्तरी से ओरियन प्लैनेट के लिए उड़ान भर दी। यहाँ जैसा एलियन दोस्त ने कहा था ठीक वैसा ही हुआ, थॉमस सच में ओरियन प्लैनेट के दुश्मनों से जम कर लड़ा और अपने दोस्त एलियन को जीत दिलाई।

Short Kahani in Hindi

ऐसा करने के बाद कुछ समय तक थॉमस ओरियन प्लैनेट पर ही रहा फिर एक दिन जब उसको उसके माँ की याद ज़्यादा आने लगी तब उसने अपने दोस्त एलियन से वापस earth planet यानि धरती पर लौटने को कहा। एलियन ने उसके लिए एक उड़न तश्तरी का बंदोबस्त कराया, जिससे थॉमस वापस धरती पर लौट आया।

Kahani Hindi Me
Kahani Hindi Me | थॉमस वापस धरती पर आ गया

धरती पर वापस आने के बाद सबसे पहले वो अपनी माँ के पास गया और माँ ने उसे प्यार किया। अब दूसरे दिन थॉमस अपने स्कूल गया तो सबसे पहले अल्बर्ट उसे मिला जो हमेशा की तरह थॉमस को परेशान करने लगा लेकिन अब थॉमस पहले जैसा कमज़ोर नहीं बल्कि मज़बूत योद्धा बन चूका था।

इसलिए थॉमस ने अल्बर्ट को अच्छी तरह से सबक सिखाई। उस दिन अल्बर्ट ने सबसे हाँथ जोड़ कर माफ़ी मांगी और कहा कि अब से मैं किसी को भी नहीं सताऊंगा।

कहानी समुंद्री डाकू, खज़ाना और दो चिड़ियों के बहादुरी की

मंगल ग्रह पर अपना घर?

रोंगटे खड़े कर देने वाली समय यात्रा की असली कहानी?

Moral of the story | Short story in Hindi

इस कहानी से हमें यही शिक्षा मिलती है कि हमें भी नरम दिल बनना चाहिए, किसी की मदद करनी चाहिए, किसी को सताना नहीं चाहिए। उम्मीद है मेरी यह Short story in Hindi आपको पसंद आयी होगी। आगे भी इसे शेयर करें, शुक्रिया।

Leave a comment